इलाहाबाद प्रयागराज कुंभ मेला 2019 – Kumbh Mela 2019 Dates & Schedule at kumbh.gov.in

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री) और श्री पियुष गोयल (केंद्रीय रेल मंत्री) ने प्रयागराज कुंभ मेला 2019 (kumbh mela 2019 allahabad) के लिए एक आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च कर दी है। यह पोर्टल कुंभ से जुड़े हुए पौराणिक, ज्योतिषीय, सामाजिक महत्व के बारे में लोगों को जागरूक करेगा। लोग इस kumbh.gov.in वैबसाइट पर शाही स्नान, स्नान करने की तारीख, भोजन और क्या-क्या चीजें हैं देखने के लिए, ठहरने की व्यवस्था आदि के बारे में जान सकते हैं।

प्रयागराज में सबसे महत्वपूर्ण चीज जो देखने वाली है वो त्रिवेणी संगम है,जहां 3 पवित्र नदियां – गंगा,यमुना,सरस्वती आपस में मिलती हैं। लोग कुंभ मेले में, शाही वैदिक मंत्रों, ज्ञान और सच्चाई का प्रचार करने वालों, आकर्षक संगीत और उपकरणों के बहुसंख्यक ध्वनि का अनुभव करना और अत्यंत भक्ति के साथ संगम में पवित्र डुबकी लेने का अनुभव ले सकते हैं।

प्रयागराज कुंभ मेला 2019 में, भक्त आनंद की प्राप्ति कर सकते हैं और कई दिव्य मंदिरों में प्रार्थनाएं कर सकते हैं।

इलाहाबाद प्रयागराज कुंभ मेला 2019 – Kumbh Mela Allahabad 2019 Official Website

इलाहाबाद में प्रयाग कुंभ मेला कई कारणों से महत्वपूर्ण है जिनमें से 3 नीचें दी गई हैं।

1. सबसे पहले, यह एक दीर्घकालिक परंपरा है जो केवल प्रयाग में ही होती है।
2. दूसरा, त्रिवेणी संगम है जिसे पृथ्वी का केंद्र माना जाता है।
3. तीसरा, यह है कि भगवान ब्रह्मा जी ने ब्रह्मांड को बनाने के लिए यज्ञ किया था।

यह तीर्थयात्रा एक तरह का मंदिर है और यहाँ प्रयागराज में कोई भी अनुष्ठान और तपस्या कर सकता है। कुंभ मेला 2019 की आधिकारिक वेबसाइट – Allahabad Kumbh Mela 2019 Official Website kumbh.gov.in है जहां आप सभी विवरण आप देख सकते हैं।

डाउनलोड कुंभ मेला 2019 एंड्रॉइड ऐप – Kumbh Mela 2019 App

चूंकि कुंभ मेला 2019 नए साल के आने के तुरंत बाद शुरू हो रहा है, राज्य सरकार इसको सफल करने के उद्देशय से पूरी तैयारियां कर रही है। योगी सरकार लोगों को क्या करें और क्या न करें सहित सभी आवश्यक जानकारी प्रदान कर रही है। पूरे विवरण के लिए, उम्मीदवार ऊपर दी गयी आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते सकते हैं या कुंभ मेला 2019 एंड्रॉइड ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं। इसके लिए, इस app को डाउनलोड करने के लिए हम आपको सीधा लिंक दे रहे हैं-कुंभ मेला 2019 ऐप डाउनलोड

राज्य सरकार तीर्थयात्रियों को बुनियादी सुविधाएं ठीक से पहुँच रही हैं यह सुनिश्चित करेगी। उत्तर प्रदेश का मुख्य फोकस सुरक्षा सेवाएं, बेहतर यातायात प्रबंधन, प्रकाश व्यवस्था और स्वास्थ्य सुविधाओं को प्रदान करना है। यूपी सरकार पहले प्रयागराज मेला अथॉरिटी 2018 भी स्थापित कर चुकी हैं। प्रयागराज कुंभ मेला 2019, के लिए सरकार कुंभ में “दिव्यता” और “भाववत” को बढ़ाने के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकियों का इस्तेमाल करेगी।

प्रयाग में कुंभ मेला 2019 में शाही स्नान तारीख – Kumbh Mela 2019 Dates

प्रयागराज कुंभ मेला 2019 में, लोग 15 जनवरी 2019 से 4 मार्च 2019 के बीच स्नान कर सकते हैं। शाही स्नान करने के लिए सभी तारीखें नीचे दी गयी हैं: –

मकर संक्रांति (प्रथम शाही स्नान) 15 जनवरी 2019 (मंगलवार)
पॉश पूर्णिमा 21 जनवरी 2019 (मंगलवार)
मौनी अमावस्या (दूसरा शाही स्नान) 4 फरवरी 2019 (मंगलवार)
बसंत पंचमी (तीसरी शाही स्नान) 10 फरवरी 2019 (रविवार)
माघी पूर्णिमा 1 9 फरवरी 2019 (मंगलवार)
महा शिवरात्री 4 मार्च 2019 (सोमवार)

मकर संक्रांति से शुरू होने वाले कुंभ मेले के प्रत्येक दिन स्नान करने (first day of month of Magha when Sun enters Capricorn) को पवित्र स्नान माना जाता है।

मत्स्य पुराण में,मार्केंडेय ऋषि ने युधिष्टर को बताया था कि यह जगह सभी देवताओं द्वारा संरक्षित है। लोग यहाँ पूरे महीने रह कर पूजा कर सकते हैं।  इस कुम्भ मेले की एक धारणा यह भी है कि कोई भी व्यक्ति जो इस कुम्भ मेले मे पवित्र पानी में डुबकी लेता है, उसकी 10 पीढ़ियों को पुनर्जन्म के चक्र से छुटकारा मिलता है और मोक्ष प्राप्त होता है। इलाहाबाद कुंभ मेला 55 दिनों तक जारी रहता है और लोग यहाँ पूरी भक्ति और विश्वास के साथ आते हैं।Allahabad Prayagraj Kumbh Mela 2019 Website App इलाहाबाद प्रयागराज कुंभ मेला 2019 वेबसाइट ऐप

कुंभ मेला 2019 को एक अमूर्त सांस्कृतिक विरासत के रूप में पहचाना जा रहा है। यहाँ लोग आध्यात्मिकता की शक्ति का अनुभव कर सकते हैं और रहस्यों से मिल सकते हैं और चमत्कारों को देख सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए, आधिकारिक वेबसाइट https://kumbh.gov.in/ पर जाएं।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.