छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफ़ी योजना – 16 लाख 65 हजार से अधिक किसानों का कर्ज माफ

छत्तीसगढ़ के नए चुने हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किसानों को राहत देते हुए मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के अगले दिन ही छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफी योजना (CG Farm Loan Waiver Scheme) की घोषणा कर दी। इस सरकारी योजना (Kisan Karz Mafi Yojana) के अंतर्गत छत्तीसगढ़ सरकार राज्य के 16.65 लाख किसानों के शॉर्ट टर्म कृषि कर्ज को माफ करेगी। 30 नवंबर 2018 से पहले सहकारी और छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंकों से किसानों द्वारा लिए गए बैंक ऋण को माफ किया जाएगा।

इसके अलावा छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफी योजना (CG Kisan Karj Mafi Yojana) के तहत कमर्शियल बैंकों से लिए गए किसानों के कर्ज भी उचित जांच और आंकड़े मिलने के बाद माफ कर दिये जाएंगे।

किसान कर्ज माफी योजना के बारे में यह घोषणा सरकार बनने के बाद पहली कैबिनेट बैठक के बाद होने वाली एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते समय की गई थी।

छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफी योजना (Chhattisgarh Farm Loan Waiver Scheme)

छत्तीसगढ़ सरकार की पहली कैबिनेट मीटिंग के बाद किसानों को राहत देने वाली छत्तीसगढ़ किसान कर्ज माफी योजना की घोषणा की गई, इस घोषणा को करने के बाद काँग्रेस सरकार ने अपने किए हुए वादे को पूरा कर दिया। कर्ज माफी योजना छत्तीसगढ़ के तहत 16 लाख 65 हज़ार किसानों का लगभग 6,100 करोड़ का कर्ज माफ किया जाएगा। जिन किसानों ने 30 नवंबर 2018 तक सहकारी बैंकों और छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंकों से कर्ज लिया है उन सभी किसानों का कर्ज पूरी तरह से माफ कर दिया जाएगा।

किसान कर्ज माफी योजना छत्तीसगढ़ के अगले चरण में किसानों द्वारा कमर्शियल बैंको से लिए हुए कर्ज को माफ किया जाएगा। पहली कैबिनेट मीटिंग में छत्तीसगढ़ सरकार ने धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price – MSP) को 2,500 रूपये प्रति क्विंटल करने का भी निर्णय लिया।

कैबिनेट कमेटी ने वर्ष 2013 के मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (Special Investigation Team – SIT) बनाने का एक और बड़ा फैसला भी लिया है जिसमे बस्तर जिले में झिरम वैली नक्सल हमले में 29 लोग मारे गए थे।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.