झारखंड ब्याज मुक्त फार्म ऋण योजना – किसानों को एक वर्ष के लिए 0% दर पर लोन

झारखंड सरकार ने किसानों को 0% ब्याज दर पर ब्याज मुक्त फार्म ऋण (Interest free farm loan) प्रदान करने की घोषणा कर दी है। राज्य सरकार ऋण के ऊपर 1 साल तक लगने वाले ब्याज को खुद भरेगी। बस इस ऋण की एकमात्र शर्त यह है कि किसानों को यह ब्याज मुक्त फार्म ऋण 1 साल में वापस देना होगा। झारखंड के रांची में हुए वैश्विक कृषि और खाद्य शिखर सम्मेलन 2018 (Global Agriculture and Food Summit 2018 in Ranchi, Jharkhand) में मुख्यमंत्री ने यह घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में सफेद क्रांति को बढ़ावा देने के लिए डेयरी सेक्टर में 50% सब्सिडी भी दी जाएगी। इसलिए झारखंड सरकार का कहना है की महिलाओं को एसएचजी बनाना चाहिए और डेयरी शुरू करनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा की किसानों को अकेले कृषि पर निर्भर नहीं होना चाहिए बल्कि उन्हें खेती को 3 भागों में विभाजित करना चाहिए जैसे – खेती, ब्रेन भूमि पर सौर खेती, डेयरी के लिए मवेशी पालन करना इत्यादि।

सरकार का अनुमान है की इन उपायों से किसानों की आय में 4 गुना तक बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा मई 2019 के महीने तक, किसानों के लिए एक अलग फीडर लाइन भी बनाई जाएगी।

झारखंड ब्याज मुक्त फार्म ऋण योजना – Interest free farm loan Jharkhand

इस योजना का लाभ केवल ताजा ऋण लेने वाले किसान ही उठा पाएंगे। अगले वर्ष से, किसानों को फसल बीमा (Crop Insurance) पर कोई प्रीमियम नहीं देना पड़ेगा। राज्य सरकार उद्योग, राज्य के नागरिकों और कृषि के लिए अलग-अलग लाइनें बनाएगी ताकि बिजली की सप्लाई सभी वर्गों को समान रूप से पहुंचाई जा सके। झारखंड सरकार का कहना है की वो अगस्त 2019 तक राज्य के सभी गांवों में 24*7 बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करेगी।

2019 से 2021 तक राज्य सरकार लगभग 28 लाख किसानों को मुफ्त मोबाइल फोन उपलब्ध कराएगी जो किसानों को तकनीकी प्रगति का सामना करने में सक्षम बनाएगी।

मुख्यमंत्री ने किसानों को सौर और साथ ही कार्बनिक खेती करने के लिए भी प्रोत्साहित किया है सरकार का कहना है की 2013-14 में झारखंड की कृषि वृद्धि दर जो 4.5% कम थी आज 14% से अधिक हो गई है।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.