झारखंड एससी / एसटी सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना – Rs. 1 Lakh on Clearing UPSC PT Exam

झारखंड के कैबिनेट ने केंद्रीय लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा को पास करने पर अनुसूचित जाति (Scheduled Caste) और अनुसूचित जनजातियों (Scheduled Tribe) के छात्रों को 1 लाख रुपए की वित्तीय सहायता देने की घोषणा कर दी है। झारखंड की एससी / एसटी सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना (Jharkhand SC / ST Civil Seva Protsahan Scheme) के तहत यह वित्तीय सहायता “महादलित” छात्रों को यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा के लिए तैयार करने में सक्षम करेगी।

झारखंड एससी / एसटी सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों को खर्चों के बारे में चिंता किए बिना अपनी शिक्षा पर ध्यान केंद्रित करने में सहायता करेगी। राज्य सरकार एक ही बार में इस राशि / अनुदान का भुगतान सीधे छात्रों के बैंक खातों में स्थानांतरित करेगी।

झारखंड सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत मुख्यत रूप से एससी / एसटी छात्रों को सहायता प्रदान करने के लिए की गई है और यह योजना 1 अगस्त 2018 से प्रभावी रहेगी।

झारखंड एससी / एसटी सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना – Jharkhand SC / ST Civil Seva Protsahan Scheme 2018

एससी / एसटी श्रेणी के छात्रों को प्रोत्साहित करने की इस योजना को मुख्यमंत्री रघुबर दास की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की बैठक में 5 नवंबर 2018 को लॉन्च किया गया है। अब सभी एससी / एसटी छात्र जिन्होने यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक (PT) परीक्षा (UPSC Preliminary Exam) को पास कर लिया है उन्हे 1 लाख की वित्तीय सहायता मिलेगी ताकि वो अपनी यूपीएससी सिविल मुख्य परीक्षा की तैयारी कर सकें।

केवल ऐसे एससी / एसटी छात्र जिन्होंने राज्य से अपनी मध्यवर्ती (कक्षा 12 वीं) और स्नातक उत्तीर्ण की है यह योजना उनही छात्रों के लिए है। इस सहायता का केवल एक ही समय के लिए लाभ उठाया जा सकता है और सभी स्रोतों के छात्रों के पारिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

यहां तक कि जो उम्मीदवार पहले से ही राज्य सरकार या केन्द्रीय सरकार से कोचिंग के लाभ ले रहे हैं वे भी योग्य नहीं हैं।

आम तौर पर छात्रों को सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Exam) की तैयारी करने के लिए और बेहतर अध्ययन सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए अपने घरों से दूर जाना पड़ता है। इसलिए, इस योजना के तहत यूपीएससी सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा को पहले से ही पास करने वाले सभी उज्ज्वल उम्मीदवारों को प्रशिक्षण के खर्चों के बारे में सोचने की आवश्यक्ता नहीं है बल्कि वे अपनी मुख्य परीक्षा की तैयारी पर ध्यान दें।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.