मध्य प्रदेश जय किसान ऋण मुक्ति योजना आवेदन पत्र (हरा, गुलाबी, सफेद) डाउनलोड करें

मध्य प्रदेश सरकार ने किसानों द्वारा विभिन्न बैंकों से लिए गए ऋण को माफ करने के लिए 15 जनवरी 2019 को जय किसान ऋण मुक्ति योजना लॉन्च कर दी है। सभी किसान जो MP Kisan Karz Mafi Yojana का लाभ लेना चाहते हैं वे सभी हरा,गुलाबी (Pink), सफेद (White) आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं और हरे, गुलाबी (Pink) और सफेद आवेदन पत्र भर कर कर्जा माफी योजना मध्य प्रदेश का लाभ ले सकते हैं। इस सरकारी योजना या MP Farm Loan Waiver Scheme के तहत राज्य सरकार सभी छोटे और सीमांत किसानों का सहकारी बैंकों (cooperative banks), क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों (regional rural banks) और राष्ट्रीयकृत बैंकों ( nationalized banks) से लिए गए 2 लाख तक के कर्ज को माफ करेगी।

मध्य प्रदेश ऋण मोचन योजना में राज्य सरकार ने 50,000 करोड़ का बजट आवंटित किया है जो राज्य में अब तक की सबसे बड़ी ऋण माफी योजना है। एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना 2019 राज्य में सभी किसानों के लिए बहुत ही फायदे मंद होगी क्यूंकि इस Kisan Karj Mafi scheme से लगभग 55 लाख छोटे और सीमांत किसानों को लाभ होने वाला है। किसान ऋण मोचन योजना में 12 दिसम्बर 2018 तक किसानों द्वारा लिए गए लोन को माफ किया जाएगा।

राज्य के वर्तमान मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने अपने चुनावी वादे को निभाते हुए इस योजना को लॉन्च किया है, जिसके लिए उन्होने अपने शपथ ग्रहण वाले दिन ही हस्ताक्षर कर दिए थे।

एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना आवेदन पत्र

मध्य प्रदेश जय किसान ऋण मुक्ति योजना 2019 का लाभ उठाने के लिए, किसानों को 3 अलग-अलग रंगों के आवेदन पत्र भरने होंगे जो नीचे दिए गए हैं:

  • हरा आवेदन पत्र (Green Application Form) : यह आवेदन पत्र उन किसानों के लिए है जिनका बैंक खाता (Bank Account) आधार से लिंक है और उन्होंने कृषि ऋण (Farm Loan) लिया हुआ है।
  • गुलाबी आवेदन पत्र (Pink Application Form) : किसान ऋण मोचन योजना से संबंधित किसी भी शिकायत या दावे के लिए, किसान गुलाबी फॉर्म भर सकते हैं।
  • सफेद आवेदन पत्र (White Application Form) : यह आवेदन पत्र उन किसानों के लिए है जिनका बैंक खाता (Bank Account) आधार से लिंक नहीं है और उन्होंने कृषि ऋण (Farm Loan) लिया हुआ है।
  • आवेदन फॉर्म : आवेदन पत्र और सेल्फ डिक्लेरेशन कुछ इस तरह दिखाई देंगे जैसा नीचे दिखाया गया है:

सभी लाभार्थी किसान / उम्मीदवार आवेदन पत्र डाउनलोड करके Kisan Karz Mafi Scheme Madhya Pradesh का लाभ ले सकते हैं।

एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना इम्प्लीमेंटेशन

MP Farm Loan Waiver Scheme के तहत 2 लाख तक का फसल ऋण माफ करने के लिए कैबिनेट ने पहले ही 5 जनवरी 2019 को अपनी मंजूरी दे दी है। एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना 2019 संशोधित कट-ऑफ तारीख 12 दिसंबर 2018 (पूर्व 31 मार्च 2018) तक लिए गए बैंक ऋणों को माफ कर देगी। कांग्रेस पार्टी ने चुनावी घोषणा करते हुए पहले की कहा था की अगर उनकी सरकार बनती है तो वे 10 दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ कर देंगे इसी वादे को पूरा करने के लिए उन्होने MP Jai Kisan Rin Mukti Yojana 2019 शुरू की है।

Kisaan Karj Mafi Scheme Madhya Pradesh में लगभग 55 लाख किसानों को इस MP Farm Loan Waiver Scheme के तहत शामिल किया जाएगा। राज्य की अर्थव्यवस्था कृषि क्षेत्र पर बहुत अधिक तक निर्भर करती है और लगभग 70% लोग प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से कृषि के क्षेत्रों से जुड़े हुए हैं इसीलिए इस योजना का शुरू होना और भी जरूरी था।

एमपी जय किसान ऋण मुक्ति फॉर्म

एमपी जय किसान ऋण मुक्ति फॉर्म

एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना 2019 – हाइलाइट्स

MP Kisan Karz Mafi Yojana 2019 की कुछ मुख्य विशेषताएं हम नीचे बताने जा रहे हैं:

मध्य प्रदेश किसान कर्ज माफी योजना / एमपी जय किसान ऋण मुक्ति योजना
अन्य नाम कृषि ऋण माफी योजना, किसान कर्ज़ माफी योजना, फ़सल ऋण माफी योजना, कर्जा माफ़ी योजना, फसल ऋण माफी योजना, Farm Loan Waiver Scheme, Crop Loan Waiver Scheme
घोषणा की तारीख 17 दिसम्बर 2018 (1st file signed by CM Kamal Nath)
कैबिनेट से मंजूरी 5 जनवरी 2019
लॉन्च की तारीख 15 जनवरी 2019
लाभार्थियों की संख्या 55 लाख छोटे और सीमांत किसान
लोन माफी की राशि 2 लाख तक
बैंक सहकारी बैंक (cooperative banks), क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक (regional rural banks) और राष्ट्रीयकृत बैंक
बजट 50,000 करोड़
एप्लीकेशन फॉर्म के प्रकार गुलाबी, सफेद, हरा (Green, White, Pink)
बेनिफ़िट कब से मिलेंगे 22 फरवरी 2019

सभी किसान जिनहोने जीएसटी और आयकर का भुगतान करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया हुआ है वे सभी मध्य प्रदेश में इस कृषि ऋण माफी योजना के तहत लाभ नहीं उठा सकते हैं।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.