डीजल पम्प को सोलर पंपों के साथ बदलने की योजना – Replace Diesel Pump Sets with Solar Pumps Soon

केंद्र सरकार देशभर में डीजल पंप सेटो को सोलर वाटर पंपों के साथ बदलने के लिए नई योजना बना रही है। इस योजना के तहत सभी डीजल पंप सेटो को बंद पड़े हुए ग्रिड सोलर पंपों के साथ बदल दिया जाएगा। इस तरह की योजना से सरकार ग्रिड से जुड़े सोलर पंपों के काम करने के योग्य बनाएगी, जिससे की वे अच्छी साफ और शुद्ध ऊर्जा से चल सकें।

केंद्र सरकार के अनुसार बिजली मंत्रालय ने सोलर पंपों के लिए इस योजना को तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है, ताकि बंद पड़े हुए ग्रिड सोलर पंपो (Stand-alone off-grid Solar Pumps) को बढ़ावा दिया जा सके। मौजूदा डीजल पंप सेटो को बदलने के उद्देश्य से बिजली मंत्रालय एक विस्तृत योजना तैयार करेगी।

नोटिफ़िकेशन के अनुसार, मंत्रालय ने एक समिति का गठन भी किया है जो इस योजना को सही क्रम या व्यवस्थित ढंग से चलाने में सहायता करेगी और उचित जानकारी प्रदान करने में मदद करेगी। इसके अलावा, यह समिति ग्रिड से जुड़े सोलर पंपों (Grid connected solar pumps) के सौरीकरण के लिए योजना की रूपरेखा तैयार करने में भी मदद करेगी। इस योजना की सुविधाओं और लाभों को उन क्षेत्रों में लागू किया जाएगा जहां कृषि फ़ीड अलग से लगी हुई हैं।

डीजल पंप को सोलर पंप में बदलने के लिए योजना

ग्रिड से जुड़ी हुई सौर पंप सोलर-स्कीम योजना केंद्र सरकार की एक अच्छी पहल है क्योंकि कम वर्षा के मौसम में किसानों को डीजल पंपों में अधिक लागत का सामना करना पड़ता है। ग्रिड से जुड़ा सोलर पंप कृषि क्षेत्र में मदद करेगा क्यूंकि जिन क्षेत्रों में बिजली या तो बहुत कम है या फिर उपलब्ध ही नहीं है, ऐसी जगहों पर सोलर पंप वरदान की तरह हैं।  इसके अलावा इस योजना से डीजल ईंधन पर निर्भरता को कम करने में भी मदद होगी।

जारी नोटिस के अनुसार, सरकार ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन इंफ्रास्ट्रक्चर के सुधार पर ध्यान केंद्रित करेगी। बिजली मंत्रालय वितरण सुविधाओं की क़्वालिटी की निगरानी करेगा, जो प्रत्येक लाभार्थी तक इसका लाभ पहुंचाया जा सके यह सुनिश्चित करेगा।

हाल ही में, राष्ट्रीय जलविद्युत निगम (National Hydroelectric Power Corporation – NHPC) के कामकाज की समीक्षा करने के लिए सलाहकार समिति की बैठक गुवाहाटी में हुई।  समिति ने सोलर रूफटॉप और सोलर पंप कार्यक्रम के इम्प्लीमेंटेशन पर जोर दिया है।

हालांकि, इस योजना को अभी तक आधिकारिक तौर पर लॉन्च नहीं किया गया है, जैसे ही यह योजना शुरू कर दी जाएगी, हम आपको अपडेट कर देंगे।

Related Content
Disclaimer & Notice: This is not the official website for any government scheme nor associated with any Govt. body. Please do not treat this as official website and do not leave your contact information in the comment below.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.